Business Tips

Career Guidance : Success is the result of hard work : कड़ी मेहनत का परिणाम होती है सफलता

Career Guidance : Success is the result of hard work : कड़ी मेहनत का परिणाम होती है सफलता  : अगर आप सोचते हैं कि आपको सफलता 1 दिन में मिल जाएगी तो आप गलत सोचते हैं ऐसा होना संभव नहीं है सफलता प्राप्त करने के लिए आपको लगातार मेहनत करनी पड़ेगी धीरे-धीरे एक-एक कदम बढ़ाने पर ही आपको सफलता मिल सकती है उसके लिए आपको रोज कार्य करना पड़ेगा और उसके लिए पूरी रणनीति तैयार करना होगा कि आपको कब, क्या और कैसे करना है

          यदि सफलता पाना सिर्फ सोचने तक ही सीमित रहता तो आज विश्व का प्रत्येक व्यक्ति अपनी जिंदगी में  सक्सेसफुल होता लेकिन ऐसा होना संभव नहीं है, प्रत्येक व्यक्ति यदि कुछ मूलभूत बातों को याद रखें अपने कार्य को आगे बढ़ाता है तो वह एक ना एक दिन सफलता का स्वाद जरूर चख सकता है अगर हम हमारे आसपास देखते हैं तो हमें समझदार लोग बहुत सारे मिल जाएंगे बहुत से लोग हमें नई नई प्रकार की सलाह देने वाले भी मिल जाएंगे पर  अगर सफल व्यक्तियों की बात की जाए तो सफल व्यक्ति हमारे आस-पास बहुत कम देखने को मिलते हैं, समझदार होना अच्छा है पर सफल होना भी जरूरी है, आप जो कार्य कर रहे हैं या आप अपनी जिंदगी में जो करना चाहते हैं और एक सफल इंसान बनना चाहते हैं तो आपको कुछ बातों का ध्यान रखना पड़ेगा

How to become Successful Businessman (सफल होने के लिए की कला)

स्वयं को जाने

अगर आप जीवन में सफलता प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको खुद को जानना बहुत जरूरी है क्योंकि जो कार्य आप कर रहे हैं वह आप करने लायक हैं भी या नहीं यह आपको पता होना चाहिए और जो काम आप कर रहे वह करने के लिए आपको क्या-क्या करना चाहिए और इसके लिए आपको क्या आना चाहिए अगर एक उदाहरण की बात करें तो अगर आप एक सॉफ्टवेयर बनाना चाहते हैं या एक वेबसाइट बनाना चाहते हैं पर इसके लिए आपको किसी भी प्रकार की प्रोग्रामिंग नहीं आती है तो क्या आप इसे बना पाएंगे आप इसे बिल्कुल नहीं बना पाएंगे इसलिए सबसे पहले स्वयं को जानना जरूरी है कि आप को क्या कार्य करते बनता है आप उसी कार्य में अपने आप को आगे बढ़ाना चाहिए जिससे आप सफल जरुर होंगे और जो कार्य आप कर रहे हैं उसकी पूरी रणनीति आपको पता होनी चाहिए कि कब क्या और कैसे करना है अगर यह बातें आप ध्यान रखते हैं तो एक दिन मंजिल तक जरूर पहुंचेंगे भले ही इसके लिए आपको थोड़ा इंतजार करना पड़े

लक्ष्य पर निगाहें

जब आप खुद को जान लेंगे तब आपको अपना एक लक्ष्य निर्धारित करना होगा और उसे पाने के लिए आपको रोज मेहनत करना होगा ऐसा नहीं है कि आपने लक्ष्य निर्धारित कर लिया तो आप बिना कुछ कार्य करें उस लक्ष्य तक पहुंच जाएंगे उसके लिए आपको दिन रात मेहनत करनी होगी आप जो कार्य कर रहे हैं उसके बारे में आपको पूरी जानकारी एकत्रित करनी होगी,  और जो यह कार्य पहले से कर रहे हैं उनसे मिलना होगा उनके बारे में जानना होगा कि यह वह कार्य कैसे करते हैं और हमेशा उनसे बेहतर करने की कोशिश करनी होगी तभी आप अपने लक्ष्य को पा सकेंगे और आप अपना लक्ष्य जो बनाते हैं वह एक दीर्घकालिक लक्ष्य होना चाहिए और उसके अंतर्गत आपको छोटे-छोटे लक्ष्मी बनाना होगा क्योंकि एक दीर्घकालिक लक्ष्य को पाने के लिए आपको छोटे-छोटे लक्ष्य को पाना होगा जिससे आप एक दिन जरूर अपना जो आखरी लक्ष्य उस तक पहुंच जाएंगे इसके लिए आपको आप जो कार्य कर रहे हैं उस को छोटे-छोटे भागों में बांटना होगा और उन कार्यों को जल्द से जल्द खत्म करने की कोशिश करना होगा ऐसे करते-करते आप धीरे-धीरे आपके लक्ष्य की ओर बढ़ते चले जाएंगे

अभ्यास करना जरूरी

जब आप कोई दीर्घकालिक लक्ष्य के लिए तैयारी करते हैं तो इसके लिए आपको अभ्यास करना बहुत जरूरी है और रोजाना कुछ नया सीखना भी जरूरी है क्योंकि इस कंपटीशन के खेल में आपको रोजाना नई-नई चीजें सीखना पड़ेगा वरना आप दूसरों के साथ मुकाबला नहीं कर पाएंगे  जब लक्ष्य तय कर लिया है तो उस लक्ष्य तक पहुंचने के लिए कुछ ऐसे काम है जो हमें रोजाना करने होंगे अब चाहे वह कोई भी आदत हो कुछ सीखने की बात हो अभ्यास हो किसी से मिलना हो या अपने समय निकालना हो यह क्रम प्रतिदिन जारी रहेगा इसका ध्यान रखने के लिए आप रोजाना जो कार्य करना चाहते हैं उसे लिख कर भी रख सकते हैं जिससे आप उन कार्यों को करना भूले ना क्योंकि यह हमारे लक्ष्य तक पहुंचने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है और इनको रोज समय देना भी बहुत जरूरी है

खुद की सुनो

जब आप खुद को पहचान लेते हैं अपना लक्ष्य निर्धारित कर लेते हैं तो आपको फिर आगे बढ़ने के लिए खुद की ही सोचना पड़ेगा खुद ही निर्णय लेना पड़ेगा अगर आप दूसरों की सुनेंगे जिनके पास खुद अपना कोई लक्ष्य नहीं है और वह सिर्फ दूसरों की आलोचना करना जानते हैं अगर ऐसे लोगों से आप चला लेंगे तो आप अपने लक्ष्य तक कभी नहीं पहुंच पाएंगे जब आपने कुछ कार्य करना शुरू किया है खुद को पहचान लिया है उस लक्ष्य के लिए क्या करना है यह भी निर्धारित कर लिया है तो फिर किसी और से कुछ सलाह लेने की क्या  जरूरत, जब आप इतना कुछ स्वयं कर सकते हैं तो आगे भी आपको स्वयं ही करना होगा, क्योंकि जिनसे आप खुद चला ले रहे हैं अगर वह खुद कुछ नहीं कर सकते तो वह आपको सलाह क्या देंगे अब आप ही अपने सबसे अच्छे दोस्त हैं सिर्फ अपना लक्ष्य और उसकी और हमारे कदम हमें बस यही ज्ञान रखना है बाकी सब हमें अंजान रहना है

संगत से रंगत

हमारी संगत ही हमारा लक्ष्य तय करेगी अगर आप ऐसे लोगों के साथ रहते हैं जिनके साथ आपको रहना अच्छा लगता है जिनके साथ आप मौज मस्ती करते हैं या जिनके साथ आप पार्टी करते हैं या जिनके साथ आप घूमते हैं तो फिर आप अपने लक्ष्य को प्राप्त नहीं कर पाएंगे क्योंकि आप एक औसतन व्यक्ति बन कर रह जाएंगे अगर आप सही में अपने लक्ष्य के लिए जागरूक हैं तो आपको ऐसे लोगों के साथ रहना होगा जिनसे आप कुछ सीख सकें और ऐसे लोग जो स्वयं रोज कुछ ना  कुछ रोज सीखते हो

सुधार का प्रयास करें

आपको अपने कार्य में निरंतर कुछ ना कुछ सुधार करना होगा क्योंकि अगर आप अपने कार्य को  समय के अनुसार सुधार नहीं करेंगे तो आप सफल नहीं हो पाएंगे इसलिए आप को निरंतर कुछ ना कुछ नया सीखना होगा और उसको अपने कार्य पर लागू करना होगा तभी आप अपने लक्ष्य तक पहुंच पाएंगे अगर आप कुछ नया सीखना चाहते हैं तो उस क्षेत्र के लोगों से भी जुड़े रहना होगा जो यह कार्य कर रहे हैं उनसे किसी भी तरह की सलाह लेने के लिए हिचकिचाना नहीं होगा उन लोगों से अच्छी तकनीकी या काम के तरीकों के बारे में भी जानकारी लेना चाहिए  और भी बहुत सी चीजें हैं जिनसे आप नई नई चीजों के बारे में जान सकते हैं जैसे इंटरनेट पर बहुत सी वेबसाइट है YouTube पर बहुत सारे वीडियो आपको मिल जाएंगे जिनसे आपको बहुत ही नई इंफॉर्मेशन प्राप्त होती रहती है तो आप इन चीजों से जुड़े रहें ताकि आपको नई नई तकनीक के बारे में जानकारी मिलती रहे

 

 

Comments

Most Popular

To Top